Navdurga

Maa Katyayani

The sixth manifestation of Goddess Durga worshipped on Navratri Shasti is ‘Katyayani’. The goddess is known as Katyayani because she was born to Sage Katyayan. The sixth manifestation of Goddess Durga worshipped on Navratri Shasti is ‘Katyayani’. The goddess is known as Katyayani because she was born to Sage Katyayan. The appearance of Goddess Katyayani …

Maa Katyayani Read More »

Maa Brahmacharini

Maa Brahmacharini

The second day of navratri or dwitiya day of shukla paksha of ashwin month is considered for the worship of maa Brahmacharini. on this day,  the moon is in Chitra Nakshtra. Brahma that is who observes penance(tapa) and good conduct. Here “Brahma” means “Tapa”. The idol of this Goddess is very gorgeous. There is rosary in …

Maa Brahmacharini Read More »

माँ कात्यायनी

माँ का नाम कात्यायनी कैसे पड़ा इसकी भी एक कथा है- कत नामक एक प्रसिद्ध महर्षि थे। उनके पुत्र ऋषि कात्य हुए। इन्हीं कात्य के गोत्र में विश्वप्रसिद्ध महर्षि कात्यायन उत्पन्न हुए थे। इन्होंने भगवती पराम्बा की उपासना करते हुए बहुत वर्षों तक बड़ी कठिन तपस्या की थी। उनकी इच्छा थी माँ भगवती उनके घर …

माँ कात्यायनी Read More »

Kalratri

माँ कालरात्रि

दुर्गा जी का सातवां स्वरूप कालरात्रि है। इनका रंग काला होने के कारण ही इन्हें कालरात्रि कहते हैं। असुरों के राजा रक्तबीज का वध करने के लिए देवी दुर्गा ने अपने तेज से इन्हें उत्पन्न किया था। इनकी पूजा शुभ फलदायी होने के कारण इन्हें ‘शुभंकारी’ भी कहते हैं। देवी कालरात्रि को व्यापक रूप से …

माँ कालरात्रि Read More »

माँ ब्रह्मचारिणी

मां दुर्गा का दूसरा रूप ब्रह्मचारिणी जिसका दिव्य स्वरूप व्यक्ति के भीतर सात्विक वृत्तियों के अभिवर्दन को प्रेरित करता है। मां ब्रह्मचारिणी को सभी विधाओं का ज्ञाता माना जाता है। मां के इस रूप की आराधना से मनचाहे फल की प्राप्ति होती है। तप, त्याग, वैराग्य, सदाचार व संयम जैसे गुणों वृद्धि होती है। ब्रह्मचारिणी …

माँ ब्रह्मचारिणी Read More »